Whatsapp ग्रुप एडमिन के लिए 10 दिन के अंदर रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी

whatsapp news

देश में सोशल मीडिया फेक मैसेज के जरिए लगातार हिंसा फैलाने का जरिया बन रहा है. अब इसकी चपेट में जम्मू कश्मीर राज्य आ गया है. राज्य में सोशल मीडिया से हिंसा को फैलने से रोकने के लिए प्रसाशन ने जोर-आजमाइश करना शुरू कर दी है. अंग्रेजी वेबसाइट इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक किश्तवाड़ जिले के डीएम ने इसके लिए Whatsapp group एडमिन पर नकेल कसना शुरू कर दी है. उन्होंने आदेश दिया है जम्मू-कश्मीर राज्य में सभी Whatsapp group एडमिन 10 दिन के भीतर उनके दफ्तर में आकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाएं. साथ ही अगर कोई ग्रुप एडमिन रजिस्ट्रेशन नहीं कराता तो उसके खिलाफ आईटी एक्ट, साइबर कानून और गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज किया जाएगा.

उल्लेखनीय है कि किश्तवाड़ के डीएम अंग्रेज सिंह राणा ने यह आदेश पिछले दिनों एसएसपी अबरार चौधरी के द्वारा दी गई रिपोर्ट के आधार पर जारी किया है. इस रिपोर्ट में जिक्र किया गया था कि अफवाह फैलाने के लिए सोशल मीडिया को जरिया बनाया जा रहा है.

इस आदेश में कहा गया है कि Whatsapp group एडमिन को रजिस्ट्रेशन कराते समय अपने ग्रुप के सभी सदस्यों की जानकारी मुहैया करानी होगी. वहीं जब भी डीएम के दफ्तर को ग्रुप में भेजी गई किसी भी जानकारी से दिक्कत होगी तो ग्रुप एडमिन को खुद आना होगा. साथ ही अगर ग्रुप में कोई ऐसी जानकारी शेयर होती है जिससे इलाके में टेंशन पैदा होती है तो एडमिन को फौरन नजदीकी पुलिस थाने में इसकी जानकारी देनी होगी.

गौरतलब है कि किश्तवाड़ में 16 जून को ईद का जुलूस निकालने के दौरान देश विरोधी नारे लगाने को लेकर सोशल मीडिया के जरिए अफवाहें फैलाई गईं थीं. इसके पहले भी ऐसी ही अफवाहें फैलाई जा चुकी हैं जिसके चलते दंगे भड़क चुके हैं और कई निर्दोष लोगों की जानें जा चुकी हैं.

SOURCE:www.hindi.news18.com

You May Also Like

About the Author: Web Biz Solutions

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *